#F5F5F5
Adobe Experience Manager Sites फ़ीचर्स

ओमनीचैनल एक्सपीरिएंसेज़

Experience Manager Sites के इस्तेमाल में आसान फ़ीचर्स से आपको ऐसा कॉन्टेंट क्रिएट, मैनेज और डिलीवर करने की सुविधा मिलती है जिसे आपके कस्टमर्स किसी भी डिजिटल टचप्वाइंट पर तलाश रहे हैं.

ओमनीचैनल एक्सपीरिएंसेज़ फ़ीचर्स को एक्सप्लोर करें.

कॉन्टेंट-ऐज़-अ-सर्विस

अपनी डिजिटल प्रॉपर्टीज़ के लिए कॉन्टेंट और एक्सपीरिएंसेज़, रियल टाइम में कॉन्टेंट को देखना और बदलना मैनेज करें. सर्विस-के-रूप-में-कॉन्टेंट आपको अपने किसी भी कॉन्टेंट का इस्तेमाल करने और इसे किसी भी चैनल पर डिलीवर करने की सुविधा देता है। आप बस कुछ कीस्ट्रोक्स से कॉन्टेंट को विभिन्न प्रकार की डिवाइसेज़ पर डिलीवरी के लिए सेट कर सकते हैं. और आपके डेवलपर्स को Experience Manager Sites के रिपॉज़िटरी स्ट्रक्चर की गहरी जानकारी की ज़रूरत नहीं है. Experience Manager Sites हाई परफ़ॉर्मिंग ऐप्स के लिए इंडस्ट्री-स्टैंडर्ड GraphQL क्वेरी-बेस्ड API को भी सपोर्ट करता है.

  • कॉन्टेंट डिलीवरी लैंग्वेज सेलेक्ट करें. कॉन्टेंट को HTML या JSON के ज़रिए डिलीवर किया जाता है, इसलिए आप इसका किसी भी चैनल पर इस्तेमाल कर सकते हैं — यहाँ तक ​​कि ऐसे चैनल भी जो अभी तक डेवलप नहीं किए गए हैं.
  • कॉन्टेंट को स्केल करें. विभिन्न प्रोजेक्ट्स में कॉन्टेंट का दोबारा इस्तेमाल करने के लिए Experience Manager Assets या किसी अन्य Experience Manager Sites प्रोजेक्ट के किसी हिस्से में पहले से मौजूद कॉन्टेंट चुनें.
https://business.adobe.com/fragments/products/modal/videos/adobe-experience-manager/sites/omnichannel-experiences/content-as-a-service#caas |
https://business.adobe.com/fragments/products/modal/videos/adobe-experience-manager/sites/omnichannel-experiences/experience-fragments#xf |

एक्सपीरिएंस फ़्रेगमेंट्स

किसी भी स्क्रीन पर पब्लिश होने योग्य चैनल-एगनोस्टिक, दोबारा इस्तेमाल करने योग्य फ़्रेगमेंट्स क्रिएट करने के लिए ग्रुप कॉन्टेंट और लेआउट्स जिससे बहुत-सी क्रिएटिव एसेट्स बनाए बिना कंसिस्टेंट मैसेजिंग और डिज़ाइन एनश्योर होते हैं.

  • कॉन्टेंट डिज़ाइन और लेआउट को डिफ़ाइन करें. डेटिकेटेड कॉन्टेंट का इस्तेमाल करके या कॉन्टेंट फ़्रेगमेंट्स, एसेट्स या अन्य जगहों से पुल करके एक या अधिक कम्पोनेंट्स को कोहेसिव एक्सपीरिएंस में कम्बाइन करें.
  • बहुत से चैनल्स के लिए डिज़ाइन करें. इस पर फ़ोकस करें कि सभी चैनल्स पर एक्सपीरिएंसेज़ कैसे चलेंगे और कॉन्टेक्स्ट-एगनोस्टिक वेरिएशन्स क्रिएट करें.
  • वेरिएशन्स क्रिएट करें. सभी पेजेज़ में वेरिएबल डिज़ाइन को संभव बनाने के लिए Experience Fragments का दोबारा इस्तेमाल करें, इन्हें रीऑर्डर या रीसाइज़ करें. हर पेज यूनीक हो सकता है जो अन्यों से सिर्फ़ खास कॉन्टेंट या कम्पोनेंट्स शेयर करता है.

कॉन्टेंट फ़्रेगमेंट्स

एसोसिएटेड मीडिया के साथ-साथ पेज से अलग टेक्स्ट डिज़ाइन करें, क्रिएट करें, क्यूरेट करें और इस्तेमाल करें जिससे कॉपी को कट और पेस्ट किए या रीराइट किए बिना ही इसे दोबारा इस्तेमाल करना आसान हो जाता है.

  • वेरिएशन्स खास चैनल्स और/या सिनारियोज़ पर इस्तेमाल करने के लिए मास्टर कॉन्टेंट की कॉपीज़ क्रिएट और एडिट करें. वेरिएशन्स से कॉन्टेंट क्रिएशन एफ़िशिएंट और ऑर्गनाइज़्ड बनता है.
  • ऑटोमैटिक एडिटिंग. कुछ चैनलों या कस्टमर सेगमेंट्स पर टार्गेट किए गए कॉन्टेंट के छोट वर्शन्स बनाने के लिए मशीन लर्निंग और नेचुरल-लैंग्वेज प्रोसेसिंग लागू करें.
  • सिंपल या स्ट्रक्चर्ड कॉन्टेंट. खासतौर से टेक्स्ट और इमेजेज़ से बने सिंपल फ़्रेगमेंट्स या स्ट्रक्चर्ड कॉन्टेंट वाले अधिक कॉम्पलेक्स फ़्रेगमेंट्स के बीच में से चुनें.
  • नेस्टिंग और गवर्नेंस. दोबारा उपयोग को अधिकतम करने के लिए अपने कॉन्टेंट में संबंध बनाने के लिए Content Fragment मॉडल्स को लिंक करें. कॉन्टेंट गवर्नेंस एनश्योर करने के लिए कॉन्टेंट वैलिडेशन्स जोड़ें.
https://business.adobe.com/fragments/products/modal/videos/adobe-experience-manager/sites/omnichannel-experiences/content-fragment#cf |
Auto-text summarization
ऑटो-टेक्स्ट समराइज़ेशन

टेक्स्ट को छोटी स्क्रीनों के लिए ऑटोमैटिक रूप से समराइज़ करने के लिए Adobe Sensei की नेचुरल लैंग्वेज प्रोसेसिंग टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करें जिससे आप टेक्स्ट को आसानी से एक बार क्रिएट कर सकें और अपने क्रॉस-चैनल एक्सपीरिएंसेज़ के भीतर उसका दोबारा इस्तेमाल कर सकें.

  • तुरंत, इंट्यूटिव टेक्स्ट एडिटिंग. मीनिंग को बरकरार रखते हुए कॉन्टेंट फ़्रेगमेंट्स में टेक्स्ट को ऑटोमैटिक रूप से प्रीडिफ़ाइन्ड टार्गेट वर्ड्स की संख्या तक छोटा करें. मशीन लर्निंग सबसे अधिक जानकारी डेंसिटी और यूनीकनेस वाले वाक्यों को रिटेन करने के लिए सिस्टम को डायरेक्ट करती है.
  • सिम्पल सिंक्रोनाइज़ेशन. एनश्योर करें कि मास्टर टेक्स्ट में किया गया कोई भी बदलाव आपके द्वारा सिंक्रोनाइज़ेशन ऑप्शन के साथ क्रिएट किए गए छोटे वर्शन्स तक भी पहुँचे.
  • आसान वर्शन रिव्यू. क्या रहना चाहिए और आप क्या हटाना चाहते हैं, इसे तय करने के लिए रेड-स्ट्राइक द्वारा डिस्पले किए गए ऑटो-टेक्स्ट एडिट्स को तुरंत आइडेंटिफ़ाई करें.
#F1F1F1

जानें कि ओमनीचैनल एक्सपीरिएंस कैसे क्रिएट करें.

डॉक्युमेंटेशन, ट्यूटोरियल्स और यूज़र गाइड्स समेत — हमारे ‘कैसे करें’ कॉन्टेंट के विशाल कलेक्शन में आपको जो चाहिए, उसे पाएँ.

और जानें